अब बिना ekyc के किसी भी सरकारी योजना का लाभ नहीं मिलेगा जल्दी करे ekyc- labour card ekyc kaise kare

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

बिन eKyc के नहीं मिलेगा सरकारी योजनं का लाभ | श्रमिकों को एकीक करना जरुरी है | labour card ekyc kaise kare | shram card ekyc kaise kare

आपकी भी ekyc  नहीं है तो आपके लिए भी सरकारी योजना का लाभ नहीं  मिलेगा सभी सरकरी योजना का लाभ लेने के लिए ekyc होना अनिवार्य है चलिए हम डिटेल्स में जानते है की आपके लिए ये चेक कैसे करना है की आपकी ekyc है या फिर नहीं अगर ekyc नहीं है तो आपके लिए अपने ekyc कैसे करने इन सभी के बारे में जानने के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़े

श्रम विभाग के पोर्टल पर श्रमिकों के पंजीयन में ई-केवायसी को अनिवार्य कर दिया गया है। इसमें अब हर निर्माण कार्यों से जुड़े श्रमिक को अपने आधार को समग्र आईडी से लिंक करवाना है। तभी उन्हें सरकारी योजनाओं के तहत दी जाने वाली मदद का लाभ मिल पाएगा। फिलहाल विधानसभा चुनाव की आचार संहिता के चलते योजनाएं बंद हैं, लेकिन जैसे ही चुनाव परिणाम घोषित होगा, योजनाएं खुल जाएंगी, लेकिन यदि ई-केवायसी नहीं हुई है तो पैसा नहीं आएगा इस लिए सभी श्रमिक को अपना ekyc करना जरुरी है|

labour card ekyc kaise kare
labour card ekyc kaise kare

Table of Contents

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

बिन kyc के नहीं  मिलेगा सरकारी योजना का लाभ

निर्माण कार्यों से जुड़े श्रमिकों के लिए सरकार कई योजनाएं चला रही हैं। इनका लाभ लेने के लिए मप्र भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल के तहत ऐसे श्रमिकों को श्रम विभाग के पोर्टल पर पंजीयन करवाना होता है। पंजीयन के लिए समग्र आईडी जरूरी है। नए नियमों के अनुसार समग्र आईडी का आधार से लिंक होना भी अनिवार्य कर दिया है, ताकि यह क्रॉस चेक हो सके कि जिस श्रमिक का पंजीयन हुआ है, उसी के खाते में पैसा जा रहा है। हालांकि अब जो नए पंजीयन हो रहे हैं, उसमें यह देखा जा रहा है कि समग्र आईडी, आधार से लिंक है या नहीं। पहले यह अनिवार्य नहीं था। तब ऐसे हजारों श्रमिकों के रजिस्ट्रेशन केवल समग्र आईडी पर हुए, जो आधार से लिंक नहीं थे। इसे लेकर श्रम विभाग ने अब जरूरी कर दिया है कि ऐसे सभी श्रमिक ई-केवायसी करवाएं। इसके लिए उन्हें समग्र आईडी के पोर्टल पर जाकर अपने आधार को समग्र से लिंक करवाना है। यदि ई-केवायसी नहीं करवाया गया तो श्रम विभाग की किसी योजना का लाभ उन्हें नहीं मिलेगा। हालांकि श्रमिकों की तरफ से अभी इसे गंभीरता से नहीं लिया जा रहा है।

17.51 लाख में से 66 हजार के ही ई-केवायसी

श्रम विभाग के अनुसार, प्रदेशभर में 17.51 लाख श्रमिकों का रजिस्ट्रेशन उनके पास है। इनमें से मात्र 66 हजार श्रमिकों के ही ई-केवायसी हुए हैं। दरअसल आचार संहिता के चलते एक महीने से सारी योजनाएं बंद हैं। आचार संहिता के हटने के बाद योजनाओं का पैसा आवंटित होगा और पंजीकृत श्रमिकों के आवेदन के अनुसार उनके खातों में ट्रांसफर किया जाएगा, लेकिन ई-केवायसी नहीं होने की दशा में यह अटक जाएगा।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

इन योजना का लाभ नै मिलेगा

निर्माण क्षेत्र के श्रमिकों की कैटेगरी में करीब 49 तरह के काम करने वालों का पंजीयन किया जाता है। इन्हें विवाह सहायता योजना, अंत्येष्टि एवं अनुग्रह सहायता, आवास योजना, छात्रवृत्ति योजना, शिक्षा सहायता योजना, खिलाड़ी प्रोत्साहन योजना, चिकित्सा सहायता योजना, प्रसूति सहायता योजना, औजार खरीदी योजना, साइकिल अनुदान, सुपर 5000 योजना के तहत लाभ मिलता है। इसके अलावा उनके बेटे-बेटियों को विदेश शिक्षा अनुदान योजना और राज्य एवं लोक सेवा आयोग की परीक्षा में सफलता पर पुरस्कार दिए जाने का भी प्रावधान है।

ई-केवायसी कहा पर होगी  

योजनाओं का लाभ लेने के लिए अब ई-केवायसी जरूरी है। इसके बिना किसी भी योजना में किसी तरह की सहायता नहीं दी जा सकेगी। श्रम विभाग के पोर्टल पर या एमपी ऑनलाइन के कियोस्क पर जाकर समग्र से आधार लिंक करवाया जा सकता है|

श्रमिक ekyc कैसे करे

  • ekyc करने के लिए आपको सबसे पहले https://labour.mp.gov.in वेबसाइट पर जाना होगा
  • आप आपके सामने होम पेज में ekyc करे का विकल्प देखें  को मिलेगा जिस पर आपके लिए क्लिक कर देना
  • अब आपके लिए अपनी समग्र आईडी डालना है और इसके बाद आगे बड़े पर क्लिक करे
  • आप आपके लिए अपना आधार कार्ड नंबर डालना है
  • अब आपके आधार से जुड़े मोबाइल पर एक OTP आयगे जिस डाला कर सबमिट कर देना देना है
  • अब आपके लिए स्लिप डाउनलोड कर लेना है
  • इस तरह से आप ekyc  कर सकते घर बैठे ही
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment

error: Content is protected !!