मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री मोहन यादव के बारे में सम्पूर्ण जानकारी – mp new cm mohan yadav

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री मोहन यादव के बारे में जानिए | मोहन यादव का राजनितिक करियर | mp new cm mohan yadav

मध्य प्रदेश में सोमवार को सीएम के नाम के चयन के लिए बीजेपी की विधायक दल की बैठक आयोजित की गई. इस बैठक में विधायकों ने डॉ. मोहन यादव के नाम पर मुहर लगाई है. मोहन यादव (Mohan Yadav) उज्जैन दक्षिण से विधायक हैं. वह शिवराज सिंह चौहान  सरकार में शिक्षा मंत्री रहे हैं. उन्होंने लगातार तीसरी बार विधायकी का चुनाव जीता है. 

शिवराज के पांव छूकर लिया आशीर्वाद

विधायक दल की बैठक में जब डॉ.मोहन यादव के नाम का एलान किया गया तो मंच पर वह मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान के पांव छूते छुए और शिवराज सिंह जी ने आत्मीयता के साथ सिर पर हाथ रखकर उन्हें आशीर्वाद दिया. मोहन यादव मध्य प्रदेश में बीजेपी का बड़ा ओबीसी चेहरा हैं. उनके नाम की घोषणा संभवतः 2024 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए की गई है. मोहन यादव की शैक्षणिक योग्यता पीएचडी है. वह 2020 में उन्हें शिक्षा मंत्री की जिम्मेदारी दी गई थी और 2023 तक वह इस पद पर रहे. इससे पहले वह 

डॉ. मोहन यादव  का राजनीतिक करियर 

58 वर्षीय मोहन यादव का राजनीतिक करियर एक तरह से 1984 में शुरू हुआ जब उन्होंने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद को ज्वाइन किया. वह आरएसएस के भी सदस्य हैं. डॉ. मोहन यादव ने 2013 में उज्जैन दक्षिण से चुनाव लड़ा था और लगातार तीसरे चुनाव में यहां से विधायक निर्वाचित हुए हैं इस बार उन्होंने कांग्रेस के प्रत्याशी चेतन प्रेमनारायण यादव को 12941 वोटों से हराया है  मोहन यादव को 95699 वोट मिले थे. 

बीजेपी के अनुभवी नेता हैं डॉ.मोहन यादव

डॉ. मोहन यादव के नाम की घोषणा उज्जैनवासियों के लिए बहुत ही बड़ी खुशी की खबर है क्योंकि सीएम पद की रेस में इनका नाम कहीं नहीं था, लेकिन विधायक दल की बैठक में उनके नाम की घोषणा की गई.  वह  2004 से पहले 2010 तक उज्जैन विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष रहे हैं जबकि 2011 से 2013 तक एमपी राज्य पर्यटन विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाली है.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment

error: Content is protected !!