आ गयी कोरोना से भी बड़ी बीमारी चीन में मची खलबली बच के रहे – china new virus update today hindi

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

चीन में रहस्यमयी बीमारी भारत में भी  एडवाइजरी जारी | china new virus update today hindi

चीन की रहस्यमयी बीमारी पर भारत सरकार के राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को एडवाइजरी जारी की है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से पब्लिक हेल्थ सिस्टम को अपडेट करने के लिए कहा है। इसके अलावा किसी बड़ी बीमारी के फैलने को लेकर अस्पतालों में तैयारी करने के लिए भी कहा गया है। वहीं, वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन ने भी चिंता जाहिर करते हुए चीन से इस बीमारी से जुड़ी जानकारी मांगी है।

रहस्यमयी बीमारी पर हमारी नजर हेल्थ मिनिस्ट्री

24 नवंबर को हेल्थ मिनिस्ट्री ने बताया था कि वो चीन में फैल रही रहस्यमयी बीमारी पर नजर रख रही है। हेल्थ मिनिस्ट्री ने कहा था- चीन में बच्चों में एच१एन2 मामलों और सांस से जुड़ी बीमारी के फैलने की बारीकी से निगरानी की जा रही है। वहीं, चीनी अधिकारियों का कहना है कि मार्च तक इस बीमारी का खतरा ज्यादा है। इसके अलावा अधिकारियों ने कोविड-19 संक्रमण के फिर से बढ़ने के खतरे को लेकर भी चेतावनी दी है। चीन के अस्पतालों में बीमार बच्चों की भीड़ लगी है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुशार , भीड़ ज्यादा होने के कारण पेरेंट्स को बच्चों के इलाज के लिए 7 घंटे तक इंतजार करना पड़ रहा है।

बीमारी फैलने से रोकने के लिए चीन ने  स्कूल बंद किये

दरअसल, 23 नवंबर को चीनी मीडिया ने स्कूलों में एक रहस्यमय बीमारी फैलने की बात कही थी। पीड़ित बच्चों में फेफड़ों में जलन, तेज बुखार, खांसी और जुकाम जैसे लक्षण दिखाई दे रहे हैं। बीमारी को फैलने से रोकने के लिए स्कूलों में छुट्टी कर दी गई।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

1200 मरीज प्रति  दिन इमरजेंसी में भर्ती हो रहे है

रहस्यमयी बीमारी के चलते चीन की राजधानी बीजिंग और उसके 500 मील (करीब 800 किमी) के दायरे में सभी अस्पताल मरीजों से भर गए हैं। अलजजीरा के मुताबिक, बीजिंग के एक अस्पताल में इस बीमारी से पीड़ित करीब 1200 मरीज हर दिन इमरजेंसी में भर्ती हो रहे हैं। वहीं, वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन डब्ल्यूएचओ ने बताया कि चीन ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में सांस से जुड़ी एक बीमारी फैलने की जानकारी दी थी।

दुनियाभर में अलर्ट जारी

अलर्ट जारी किया है। ये प्लेटफॉर्म इंसानों और जानवरों में फैलने वाली बीमारियों की जानकारी रखता है। प्रो-मेड ने कोरोना को लेकर भी दिसंबर 2019 में एक अलर्ट जारी किया था। प्रो-मेड की रिपोर्ट के मुताबिक ये अभी तक पता नहीं चल पाया है कि इस बीमारी ने कब फैलना शुरू किया। प्लेटफॉर्म ने ये भी नहीं बताया कि ये बीमारी सिर्फ बच्चों तक सीमित है या युवाओं और बुजुर्गों को भी अपनी चपेट में ले रही है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

महामारी कहना जल्दबाजी

पिछले हफ्ते चीन के नेशनल हेल्थ कमीशन ने निमोनिया फैलने की वजह कोरोना पाबंदियों का हटना बताया था। डब्ल्यूएचओ ने बीमारी की जांच के लिए चीन में हाल फिलहाल में फैले सभी तरह के वायरस की सूची मांगी है। वहीं, लोगों से कहा है कि वो मास्क पहन कर रखें और सोशल डिस्टेसिंग का पालन करें। डब्ल्यूएचओ ने फिलहाल इस के रहस्यमयी बीमारी के महामारी होने पर कोई और जानकारी नहीं दी है। वहीं, सर्विलांस प्लेटफॉर्म प्रो- मेड ने भी कहा है  कि इसे महामारी कहना गलत और जल्दबाजी होगी । अभी  चीन में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। तापमान जीरो डिग्री के करीब पहुंचने की संभावनाएं हैं।

 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment

error: Content is protected !!